काला टीका सीरियल की कहानी | Kaala Teeka serial ki kahani story

0
Kaala teeka serial ki kahani
Kaalateeka serial story in hindi

नमस्कार आज हम इस लेख में बात करेंगे काला टीका सीरियल के बारे में तो काला टीका एक भारतीय हिन्दी धारावाहिक है, जिसका प्रसारण ZEE TV पर 2 नवम्बर 2015 से प्रारंभ हुआ और 14 अप्रैल 2017 तक यह प्रसारित हुआ और इसके बाद कुछ समय बाद उसे प्रसारित होता है और यह सोमवार से शुक्रवार रात 7 बजे ज़ी टीवी पर प्रसारित होता था। काला टीका धारावाहिक का निर्माण टोनी सिंह और दीया सिंह ने किया है और इसका संपादन रौनक आहूजा और अंशुल आहूजा ने किया है। काला टीका का प्रसारण 2 वर्ष तक हुआ और इसमें लगभग 406 एपिसोड हैं। तो यह थी काला टीका धारावाहिक प्रोग्राम के बारे में जानकारी आइए जानते हैं कि क्या है इसकी कहानी –

कालाटीका – उम्मीद का नया दौर की कहानीKaala teeka serial ki story

तो इस धारावाहिक नाटक में मिथिला नामक एक नगर में गंगा नदी के पास विश्ववीर झाॅ नामक एक व्यक्ति निवास करता है, जिनकी एक बेटी होती है। उसका नाम गोरी होता है एवं उसकी जान को खतरा रहता है। विश्व वीर का एक लक्ष्य अपनी बेटी गौरी को सुरक्षित रखना रहता है। उसे एक दिन पता चलता है कि एक बच्ची उसकी बेटी को श्राप से बचा सकती है। जिसका नाम काली है विश्व वीर काली को गोद ले लेता है। जिस तरह काला टीका रक्षा करता है, उसी प्रकार काली गौरी की रक्षा करती इस कारण उसका उसे गौरी का काला टीका भी कहते हैं। इसी कारण से इस धारावाहिक का नाम काला टीका रखा गया।

और 5 साल बाद काली लगातार गौरी हर तरह से बचाती रहती है। विश्ववीर की एकलौती बेटी होने के कारण गौरी पीलीभीत अच्छे से देखरेख करता और गौरी को सभी सुख मिलते हैं, लेकिन काली की विश्ववीर ठीक तरीके से देखरेख तक नहीं करता है। विश्ववीर की पहली पत्नी मंजिरी झाॅ होती है। जिसकी कोई संतान नहीं होती और वो काली को अपनी बेटी की तरह पालती है। हीरो से प्यार करती है।

और दूसरी तरफ कल्याणी कई साल पहले घटे किसी हादसे के कारण विश्ववीर से बदला लेना चाहती है। वो इसके लिए उसकी बेटी गौरी को मारने की षड्यंत्र बनाती है, पर उससे पहले उसे काली को मारना होता है, ताकि उसे गोरी को मारना आसान हो जाए, लेकिन काली बच जाती है और ये बात मंजिरी को बता देती है।

जब काली और मंजिरी इस बात को लेकर कल्याणी से बहस करती है तो उनके बीच झगड़ा हो जाता है और कल्याणी के हाथों से मंजिरी की हत्या हो जाती है। कल्याणी उसकी मौत को ऐसा साबित करने की कोशिश करती है कि काली ने उसे मारा है। विश्व वीर यह सोच कर की काली कहीं गौरी से दूर न हो जाये, इस कारण विश्ववीर उसका दोष अपने सर ले लेता है जिससे सजा मिलती है और 14 साल के लिए जेल चले जाता है। और यही है ए प्रोग्राम समाप्त हो जाता है और इस 14 साल बाद कहानी आगे बढ़ाई जा रही है।

दोस्तों यदि काला टीका धारावाहिक प्रोग्राम की कहानी आपको कैसी लगी अगर अच्छी लगी तो अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिए एवं और ऐसे ही लेख पढ़ने के लिए गूगल पर सर्च कीजिए – janyukti.com और इस लेख में बस इतना ही मिलते हैं अगले लेख में।

Kaala teeka video | काला टीका वीडियो

Kaala teeka video

इन्हें भी पढ़ें –
जानिए बालवीर की कहानी एवं कलाकार
जानिए क्या है कुमकुम भाग्य नाटक की कहानी एवं किसके कलाकार

जनयुक्ति website में आपका बहुत-बहुत स्वागत है। आपको यहां आपको मिलेगी लेटेस्ट खबर, पॉलिटिकल उठापटक, मनोरंजन की दुनिया,अजब-गजब, व्यापार, नौकरी, खेल-खिलाड़ी, सोशल मीडिया का वायरल, फिल्म रिव्यू, खास मुद्दों पर माथापच्ची और बहुत कुछ. हिंदी में धड़ाधड़ खबरों, एक्सक्लूसिव वीडियोज़ से जुड़े रहने के लिए बने रहो जनयुक्ति (JanYukti) के साथ।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here