अप्रैल फूल दिवस कब, क्यों मनाया जाता है? शुरुआत, April fool Day in hindi

April fool day ni hindi

नमस्कार आज हम बात करने वाले हैं अप्रैल फूल दिवस (April fool day) के बारे में। अप्रैल फूल दिवस ज्यादातर पश्चिमी देशों में मनाया जाता है यह तो इस दिन लोगों के साथ प्रैंक करना या मजाक करना आम बात होती है अप्रैल फूल दिवस को ऑल फूल्स डे ( All fools day ) भी कहा जाता है। यह दिवस 1 अप्रैल को मनाया जाता है। तो आइए जानते हैं इस दिवस के बारे में विस्तार से –

अप्रैल फूल दिवस का महत्व

1 अप्रैल यानी कि अप्रैल फूल दिवस बड़े ही धूमधाम से मनाया जाता है इस दिन कई बड़ी-बड़ी कंपनियां प्रेस मीडिया अपनी ऑडियंस के साथ बड़ी-बड़ी फेक न्यूज़ बता कर प्रैंक करती हैं। एवं बाद में उन्हें अप्रैल फूल कहकर बता देती हैं इस दिन सामान्य तौर पर लोग हर किसी से मजाक करते हैं लेकिन कोई भी इसका बुरा नहीं मानते हैं। इस त्यौहार को पूरी दुनिया के देश में मनाया जाता है एवं जिस दिन एक अलग ही मजा होता है।

April fool day कब मनाया जाता है –

तो दोस्तों आपको बता दें कि यह पश्चिम दिशा में हर साल 1 अप्रैल को मनाया जाता है। इस दिन कोई छुट्टी का दिन नहीं होता है। कुछ देशों में है दिवस केवल दोपहर तक ही मनाया जाता है। दक्षिण अफ्रीका, ऑस्ट्रेलिया, न्यूजीलैंड, ब्रिटेन आदि। यह त्योहार हर साल 1 अप्रैल को मनाया जाता है जो कि 2020 में 1 अप्रैल को हैप्पी फूल्सडेन अकेला मुझे मनाया जाएगा आपको मूर्ख बनाया जा सकता है इसलिए संभल कर रहे 1 अप्रैल को।

April fool day: अप्रैल फूल्स डे क्यों मनाया जाता है-

अप्रैल फूल डे अनाड़ी एवं समझदार लोगों के साथ मजाक करना या फिर उन्हें मूर्ख बनाना लिए मनाया जाता है इससे खुशी का माहौल पैदा होता है। अप्रैल फूल दिवस के बारे में ऐसा कुछ भी निश्चित नहीं है क्या क्यों मनाया जाता है। कुछ भारतीयों का मानना है कि अप्रैल फूल अंग्रेजों ने भारत के लोगों को मूर्ख बताने के लिए शुरुआत की गई थी क्योंकि अप्रैल 1 तारीख को भारत के लोग नया साल मनाते हैं। जो कि विक्रमी संवत के हिसाब से होता है।

April fool day की शुरुआत कब हुई-

कुछ भारतीयों का कहना है कि अप्रैल फूल दिवस की शुरुआत अंग्रेजों के जमाने से हुई । विद्वानों का कहना है कि 1 अप्रैल को भारतीयों का नव वर्ष होता है जोकि विक्रमी संवत के हिसाब से होता है यह आगे पीछे भी हो सकता है इसलिए अंग्रेजों ने भारतीयों का मजाक उड़ाने के लिए अप्रैल फूल की शुरुआत की।

लेकिन कुछ विद्वानों का कहना है कि अप्रैल फूल दिवस की शुरुआत तेरी भी शताब्दी से हो गया था शुरुआत लंदन से हुई थी। एवं कुछ विद्वान ब्रिटेन के कैलेन्डर की स्थापना से ही अप्रैल फूल देवास मनाया जा रहा है ऐसा मानते हैं। कुछ लोगों का कहना है कि अप्रैल फूल दिवस की शुरुआत 15 वी शताब्दी में लंदन से हुई थी जहां एक टिकट को एक आदमी को बेवकूफ बनाया गया था तभी से अप्रैल फूल दिवस मनाया जाता है।

अधिक अधिक पढ़ें –
अप्रैल फूल इमेजे | April fool imeges
अप्रैल फूल चुटकुले | April fool joks in hindi

तो यह थी अप्रैल फूल दिवस के बारे में कुछ जानकारी है जानकारी अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिए एवं ऐसी और जानकारी के लिए हमें फॉलो करते रहिए।

Leave a Comment

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.