Apricot in Hindi: ख़ुबानी फल कैसे खाएं? एवं इसके फायदे और नुकसान

2
Apricot in hindi
Apricot in hindi

नमस्कार इस लेख में हम बात करने वाले हैं (एप्रीकॉट) Apricot in hindi यानी कि ख़ुबानी फल या मेवा के बारे में। तो ख़ुबानी एक ऐसा फल है जिसमें कई प्रकार के विटामिन एवं फाइबर पाए जाते हैं सुखवानी का फल बेर के जितना छोटा पीले एवं नारंगी रंग का गुठलीदार फल होता है। जैसा कि आप ऊपर तस्वीर में देख रहे हो। इसका उत्पादन सबसे सबसे ज्यादा तुर्की में किया जाता है वैज्ञानिकों के अनुसार यह बहुत ही प्राचीन काल का फल है। ख़ुबानी फल को एक में भी के रूप में भी प्रयोग किया जाता है। जोकि इसकी गुठली से एक बादाम के जैसा बीज निकलता है जो एक मेवे के रूप में इस्तेमाल किया जाता है। इसका छिलका काफी मुलायम होता है और खाने में बहुत स्वादिष्ट होता है तो आइए जानते हैं ख़ुबानी फल के बारे में विस्तार से –

Apricot in hindi: ख़ुबानी के फलों को कैसे खाएं

तो ख़ुबानी (Apricot) फलों का सेवन आप सुबह शाम 10 से 15 फल ले सकते हैं। जोकि बहुत स्वादिष्ट एवं मीठे होते हैं एवं हमारे शरीर के लिए बहुत फायदेमंद होते हैं। शुगर के मरीजों को इसके सेवन से बचना चाहिए एवं इसके फलों का ज्यादा सेवन ना करें।

Apricot in hindi: ख़ुबानी के सूखे फलों को कैसे खाएं

तो ख़ुबानी (Apricot) के सूखे फलों का इस्तेमाल आप रोज दूध के साथ ले सकते हैं जो कि वजन कम करने में सहायक होता है। यह एक मेवा होता है तो आप इसका इस्तेमाल हलवा लड्डू एवं खीर वगैरह में भी कर सकते हैं और शुगर के मरीज भी इसका सेवन कर सकते हैं।

ख़ुबानी (Apricot) के फायदे | Aprucot ke fayde in hindi

  • ख़ुबानी(Apricot) एनीमिया रोग के मरीजों के लिए एक औषधि का काम करता है जोकि एनीमिया को ठीक करने में फायदेमंद होता है।
  • ख़ुबानी कैंसर के मरीजों के लिए फायदेमंद होता है एवं कैंसर को फैलने से रोकता है एवं ठीक करता है।
  • ख़ुबानी (Apricot) अस्थमा रोग के लिए रामबाण इलाज होता है एवं में अस्थमा रोग के लिए फायदेमंद होता है।
  • खुबानी से और भी कई तरह के फायदे होते हैं जैसे कि वजन कम करने में एवं गर्भवती महिलाओं को इसका सेवन करना चाहिए।
  • ख़ुबानी फल में फाइबर प्रचुर मात्रा में पाया जाते हैं एवं फाइबर आंतों के लिए महत्वपूर्ण होते हैं इसलिए कब्ज वाले रोगियों के लिए बहुत फायदेमंद होते हैं।
  • ख़ुबानी फल के सेवन से हड्डियों का विकास एवं मजबूती प्रदान होती है।
  • इस फल में विटामिन सी एवं फाइबर की मात्रा अधिक होता है। जो कि हृदय रोगों के लिए बहुत लाभदायक होता है। एवं जिन्हें हार्टअटैक एसिट्रोम होता है उनके लिए इस फल की सेवन की सलाह दी जाती है।
  • इस फल का सेवन हमारे शरीर द्रव संतुलित करता है क्योंकि इसमें पोटेशियम की मात्रा संतुलित होती है।
  • ख़ुबानी का तेल कान दर्द के लिए बहुत रामबाण इलाज होता है एवं कान दर्द को आराम प्रदान करता है।
  • ख़ुबानी के फलों का जूस बनाकर बुखार के मरीज को तुरंत आराम देता है फलों में पोटेशियम एवं खनिज एवं विटामिंस होते हैं।
  • ख़ुबानी का तेल त्वचा के लिए लाभदाई होता है इसे त्वचा पर लगाने पर त्वचा चमकदार एवं चिकनी होती है।
  • खुबानी के सूखे बीजों में एंटीऑक्सिडेंट, बीटा कैरोटीन का उच्च स्तर पाया जाता है। जो कि हमारी आंखों को स्वास्थ्य बनाता है।

ख़ुबानी (Apricot) के नुकसान | khubani ke nuksan

खुबानी एक बहुत ही फायदेमंद फल है। एवं इससे कुछ नुकसान हो सकते हैं जैसे कि कुछ लोगों को एलर्जी हो सकती है आपको बता दें कि ख़ुबानी (Apricot) के फलों का सेवन 20 या 30 से अधिक नहीं करना चाहिए। शुगर के मरीजों के लिए इसके फल का सेवन नहीं करना चाहिए वे इसके में भी यानी कि सूखे ख़ुबानी (Apricot) का इस्तेमाल कर सकते हैं।

Aprocot in Hindi: ख़ुबानी की विभिन्न भाषाओं में नाम

इस फल को विभिन्न भाषाओं के नाम से जाना जाता है जो इस प्रकार है-

  • अंग्रेजी – ऐप्रिकॉट(Apricot)
  • मराठी – जर्दाळू
  • पश्तो –  ख़ुबानी(Apricot)
  • फ़ारसी – ज़र्द आलू

तो यह है ख़ुबानी यानी कि एप्रीकॉट ( Apricot) फल के बारे में जानकारी तो इस जानकारी को अपने दोस्त के साथ शेयर कीजिए एवं कुछ सुधार हेतु टिप्पणी कीजिए। और ऐसी जानकारी के लिए फेसबुक एवं ट्विटर पर फॉलो करें।

2 टिप्पणी

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here