मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का जीवन परिचय | CM Yogi Adityanath biography in Hindi

1

उत्तर प्रदेश के तेजतर्रार मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी का जीवन परिचय (Yogi adityanath biography in hindi) इस लेख में हम आपको बताएंगे। यह भी आदित्यनाथ जी “एक हाथ में माला, दूसरे हाथ में भाला” ये सिद्धांत पर काफी चर्चित हैं। तो आइए जानते हैं की उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ जी का जन्म कहां और कब हुआ था। एवं इनका राजनैतिक जीवन के बारे में विस्तार से जानेंगे। एवं योगी आदित्यनाथ जी की राजनीति में एंट्री कैसे हुई।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का जीवन परिचय | CM Yogi Adityanath biography in Hindi

श्री योगी आदित्यनाथ जी का जन्म 5 जून सन 1972 ई° उत्तराखंड कि गढ़वाल जिले के पंचुर नामक ग्राम में एक गढ़वाल क्षत्रिय परिवार में हुआ था। इनका शुरुआती नाम अजय सिंह बिष्ट था। योगी आदित्यनाथ के पिता का नाम आनंद सिंह बिष्ट एवं माता का नाम सावित्री देवी है। अभी हाल ही में 20 अप्रैल 2020 को योगी आदित्यनाथ जी के पिता जी का स्वर्गवास हो गया।

योगी आदित्यनाथ जी ने 15 वर्ष की आयु में ही संयास ले लिया था एवं यह घर छोड़कर गोरखनाथ मंदिर में रहने लगे थे एवं इन्होने अपना नाम बदलकर अजय सिंह बिष्ट से यदि आदित्यनाथ रख लिया था। योगी आदित्यनाथ जी की शिक्षा की बात करें तो यह भी आदित्यनाथ जी ने गणित एवं विज्ञान में स्नातक की शिक्षा ग्रहण की है।

योगी आदित्यनाथ जी एक हिंदुत्ववादी नेता है इन्होंने हिंदू युवा वाहिनी नामक संगठन का निर्माण भी किया एवं आज यह संगठन बहुत ही विशाल रूप में है और योगी आदित्यनाथ जी अभी इसके संस्थापक हैं।

योगी आदित्यनाथ जी का जीवन परिचय संक्षेप | Yogi adityanath biography sort in hindi

नाम योगी आदित्यनाथ
बचपन का नाम अजय सिंह बिष्ट
जन्मतिथि05 जून 1972
जन्म स्थान ग्राम- पंचुर जिला- गढ़वाल, उत्तराखंड
पिता का नाम आनंद सिंह बिष्ट
माता का नाम सावित्री देवी
गुरु महान अवैधनाथ जी महाराज
शारीरिक संरचना लंबाई- 164 सेंटीमीटर, वजन- 65 KG
व्यवसाय योगी, राजनेता, मुख्यमंत्री
शिक्षा गणित व विज्ञान में स्नाकोत्तर

योगी आदित्यनाथ जी की शिक्षा | Yogi Adityanath Education

योगी आदित्यनाथ जी की प्रारंभिक शिक्षा टेहरी के गजा के स्थानीय स्कूल में ही हुई। यहां इन्होंने दसवीं तक की शिक्षा ग्रहण की। एवं इसके बाद यह ऋषिकेश में यह शिक्षा ग्रहण करने चले गए एवं यहां श्री भरत मंदिर इंटर कॉलेज से इन्होंने 12वीं की परीक्षा पास की।

इसके बाद इन्होंने श्रीनगर के हेमवती नंदन बहुगुणा गढ़वाल विश्वविद्यालय से गणित विषय में बीएससी पास की। एवं इसके बाद इनके कमरे से सामान चोरी हो जाने के कारण इनके कागज एवं प्रमाण पत्र मार्कशीट आदि जरूरी कागजात चोरी हो गए। लेकिन इन्होंने पुना ऋषिकेश में विज्ञान विषय से स्नातकोत्तर किया। एवं इसके बाद वह राम मंदिर आंदोलन में लग गए।

एवं यहीं से योगी आदित्यनाथ जी अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद से जुड़े और महंत श्री अवैध नाथ जी के संपर्क में आए। और इन्हें अपना गुरु बनाकर संयास ले लिया। एवं यहीं से इन्होंने अपना नाम बदल कर योगी आदित्यनाथ रख लिया।

योगी आदित्यनाथ का पारिवारिक जीवन | Yogi Adityanath Family Life

Yogi Adityanath family
योगी आदित्यनाथ जी का परिवार Image source – NDTV

योगी आदित्यनाथ जी के पिता का नाम आनंद सिंह बिष्ट है एवं वह फॉरेस्ट रेंजर थे। एवं योगी आदित्यनाथ 7 बहन भाई हैं जिनमें इनसे बड़ी तीन बहने एवं एक बड़े भाई एवं दो छोटे भाई हैं। योगी के भाइयों के नाम मानवेंद्र मोहन, महेंद्र मोहन, और शैलेंद्र मोहन है। जिनमें से उनके छोटे भाई शैलेंद्र मोहन भारतीय सेना में तैनात हैं।

इसे भी पढ़ें – प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी का जीवन परिचय

योगी आदित्यनाथ जी की राजनीति की कहानी | Yogi Adityanath Political Story

आज जो उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री हैं इनकी राजनीति की शुरुआत 20 वर्ष की आयु में ही हो गई थी। एवं इन्होंने 20 वर्ष की आयु में ही बीजेपी को ज्वाइन कर लिया था। एवं गोरखपुर के सन्यासी थे एवं सबसे पहले भारत के 12वें लोकसभा चुनाव में गोरखपुर सीट पर चुनाव लड़ा एवं गोरखपुर से सांसद बने एवं इसके बाद 13वें लोकसभा चुनाव में फिर से गोरखपुर से सांसद बने एवं वहीं कार्यभार संभाला। इस तरह 2004, 2009, 2014 लगातार पांच बार योगी आदित्यनाथ जी सबसे कम उम्र के सांसद बने रहे।

एवं इसके बाद 2017 में उत्तर प्रदेश के विधानसभा चुनाव में योगी आदित्यनाथ जी को बीजेपी के द्वारा प्रत्याशी चुना गया एवं इसके बाद योगी आदित्यनाथ जी उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री बने और हाल ही में अभी मुख्यमंत्री हैं और अपना कार्यभार बहुत ही अच्छी तरीके से संभाल रहे हैं।

योगी आदित्यनाथ राजनैतिक विवाद

योगी आदित्यनाथ हिंदुत्ववादी राजनेता है एवं उनके राजनैतिक सफर में कई विवाद उत्पन्न हुए एवं इन पर कई आपराधिक मामले भी लगाए गए हैं एवं इनकी आवाज को कोई भी दवा नहीं सका है एवं उन पर कई विवादों के आरोप हैं जिनमें से मुक्त कुछ इस प्रकार हैं –

  • योगी आदित्यनाथ सबसे पहले धर्म परिवर्तन विवाद में फंसे। इन पर आरोप लगाया गया कि यह ईसाई धर्म के लोगों को हिंदू धर्म अपनाने पर मजबूर कर रहे हैं। इन पर आरोप था कि उन्होंने अब तक 1800 इसाई धर्म के लोगों को हिंदू धर्म परिवर्तन करवा दिया है।
  • इसके बाद 2007 में हिंदू मुस्लिम के मध्य मुहर्रम पर हुए दंगों का आरोप लगा। एवं इस दंगे में हिंदू युवा वाहिनी के एक सदस्य राजकुमार अग्रहरि की मृत्यु हो गई। एवं वहां कर्फ्यू लगा दिया गया एवं योगी को वहां जाने से मना किया गया लेकिन यह भी अपने सदस्यों को लेकर वहां गए एवं वहां के कुछ स्थानों पर आग लगा दी। जिससे इन्हें गिरफ्तार कर लिया गया। इनके गिरफ्तार होते ही मुंबई-गोरखपुर एक्सप्रेस ट्रेन के कुछ डिब्बे जला दिए गए। जिसका आरोप योगी आदित्यनाथ पर लगा।
  • योगी आदित्यनाथ जी ने सन 2015 में एक और विवादित बयान दीया। एवं उन्होंने कहा कि “जो लोग योग नहीं करते एवं सूर्यनमस्कार नहीं करते उन्हें देश में रहने का कोई अधिकार नहीं, एवं सूर्य नमस्कार करने में हिंदू-मुस्लिम नहीं होना चाहिए” इस बयान पर काफी विवाद उत्पन्न विभाग लेकिन शांत हो गया।
  • इसके बाद योगी आदित्यनाथ ने एक और विवादित बयान शाहरुख खान पर दिया। बात उस समय की है जब शाहरुख खान ने कुछ असहिष्णुता युक्त बयान जारी किए थे। तब योगी ने पलटवार करते हुए कहा – शाहरुख को इस देश के बहुसंख्यक समुदाय का ध्यान रखना चाहिए देश ने उन्हें स्टार बनाया है यदि देश के लोग उनकी फिल्में देखना छोड़ दें तो शाहरुख को गली गली फिरना पड़ेगा।

योगी आदित्यनाथ मुख्यमंत्री बनने के बाद कुछ बड़े फैसले

जैसे ही योगी आदित्यनाथ उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री बने तो उन्होंने बड़े-बड़े फैसले लिए जो कि उत्तर प्रदेश को एक अच्छा राज्य बनाने के लिए उपयुक्त है। योगी आदित्यनाथ द्वारा लिए गए कुछ बड़े फैसले इस प्रकार हैं-

  • योगी आदित्यनाथ जी ने मुख्यमंत्री पद की शपथ देने के बाद अपनी प्रथम कैबिनेट मीटिंग के बाद किसानों की कर्ज माफी की। एवं उत्तर प्रदेश के सभी किसानों का एक लाख तक का कर्ज माफ किया गया।
  • उत्तर प्रदेश में लड़कियों के खिलाफ छेड़खानी एवं बलात्कार जैसी घटनाओं को रोकने के लिए योगी आदित्यनाथ ने एंटी रोमियो दस्ते का गठन किया। एंटी रोमियो दस्ता हर कॉलेज एवं सार्वजनिक स्थान पर इनकी टीम तैनात रहती है। एवं जो भी लड़कियों से छीन छेड़खानी करते हैं उन्हें सबक सिखाया जाता है।
  • योगी आदित्यनाथ में सबसे बड़ा फैसला यह लिया कि जो भी उत्तर प्रदेश में अवैध एवं यांत्रिक बूचड़खाने चल रहे थे उन पर पूरी तरह प्रतिबंध लगा दिया।
  • योगी आदित्यनाथ ने एक और फैसला लिया जो गौ तस्करी पर था। उत्तर प्रदेश में गौ तस्करी बहुत चल रही कि इसको देखते हुए योगी आदित्यनाथ जी ने इस पर पूरी तरह प्रतिबंध लगा दिया। एवं गोवंश के लिए कई गौशालाओं आदि का प्रबंध किया।
  • योगी आदित्यनाथ जी जनता की बहुत सुनते हैं एवं उन्होंने फैसला लिया कि वह जनता दरबार लगाएंगे जिसमें लोगों की समस्याएं सुनेंगे एवं उनका निदान जल्द से जल्द करेंगे। इसके साथ साथ ही उन्होंने लोगों की शिकायत ऑनलाइन के माध्यम से लेने के लिए जनसुनवाई (Jansunwai) पोर्टल भी लॉन्च किया।

तो यह है थी योगी आदित्यनाथ जी के जीवन के बारे में कुछ जानकारी मैं आशा करता हूं कि आपको यह लेख पसंद आया होगा। अगर इस लेख में कोई कमी हो तो हमें कमेंट करके जरूर बताएं अगर आप कमेंट नहीं करेंगे तो सुधार कैसे होगा।

1 टिप्पणी

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here