गोवर्धन पूजा कब है शुभ मुहूर्त और पूजा विधि | Govardhan puja 2022

Govardhan puja 2022

Govardhan Puja 2022 – नमस्कार साथियों अगर आपके मन में है सवाल है कि 2022 में गोवर्धन पूजा कब है तो आज के इस लेख में हम आपको बताने वाले हैं कि गोवर्धन पूजा कब है और पूजा का शुभ मुहूर्त क्या है एवं पूजा किस प्रकार से करनी है यह सब पूरी जानकारी इस लेख में हम आपको बताने वाले हैं।

साथियों कार्तिक मास की शुरुआत होते ही करवा चौथ दीपावली आदि त्योहार होते हैं एवं दीपावली के बाद ही गोवर्धन पूजा होती है एवं हर साल दीपावली के 1 दिन बाद गोवर्धन पूजा होती है लेकिन इस बार गोवर्धन पूजा का मुहूर्त अलग है तो चलिए आइए जानते हैं विस्तार से – 

Govardhan puja 2022 कब है –

गोवर्धन पूजा हर वर्ष दीपावली के 1 दिन बाद कार्तिक मास के शुक्ल पक्ष प्रतिपदा के दिन होती है दीपावली 24 अक्टूबर को है तो गोवर्धन पूजा 25 अक्टूबर को होनी चाहिए लेकिन 25 अक्टूबर को सूर्य ग्रहण होने के कारण सूतक लग जाता है इसलिए कोई पूजा नहीं होती है तो गोवर्धन पूजा 26 अक्टूबर को की जाएगी।

गोवर्धन पूजा का शुभ मुहूर्त

साथियों कार्तिक मास के शुक्ल पक्ष की प्रतिपदा तिथि 25 अक्टूबर को शाम 4:18 पर शुरू होगी और 26 अक्टूबर को दोपहर 2:42 तक हैं तो आपको बता दें कि गोवर्धन पूजा 26 अक्टूबर को ही शुभ मुहूर्त है सुबह 6:29 से लेकर 8:43 तक ही रहेगा यहां पर आप गोवर्धन पूजा कर सकते हैं।

गोवर्धन पूजा की विधि

देखिए गोवर्धन पूजा में गोवर्धन पर्वत की पूजा की जाती है तो गोवर्धन पूजा करने के लिए सबसे पहले आपको गाय के गोबर को लेकर गोवर्धन पर्वत की आकृति को बनाना है फिर उस पर गाय बछड़े आदि भी बनाना है इसके बाद आप गोवर्धन की पूजा करें पूजा में आप गोवर्धन जी के लिए दीपावली पर बनाई गई खीर और प्रसाद आदि का भोग लगाएं।

भोग लगाने के बाद उस पर 7 परिक्रमा लगाएं जिसमें आप खीला एवं जौ साथ में लेकर गिराते जाइए। और बाद में गोवर्धन पर्वत महाराज जी से प्रार्थना कीजिए कि हमारे जीवन में कोई भी देखता ना आए और हमें सुखी रखें और इसके साथ आप पूजा में दीपक और धूप जलाएं।

इन्हें भी पढ़ें – रामनवमी कब है 2022

तो साथियों आप इस प्रकार से गोवर्धन पूजा कर सकते हैं आशा करते हैं कि अब आपको पता चल गया होगा कि Govardhan puja 2022 kab hai और पूजा करने का शुभ मुहूर्त क्या है और पूजा कैसे करना है तो साथियों ऐसी ही और अधिक जानकारी के लिए हमारे साथ बने रहिए अगर आपको कोई भी मन में सवाल है तो आप एक बार कलैंडर या किसी विद्वान से इस पूजा के बारे में पूछ सकते हैं क्योंकि हम इसके बारे में पुष्टि नहीं करते हैं धन्यवाद।

Leave a Comment

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.